Home

  • गरीबी में जी रहा CWG 2022 का चैंपियन, मेडल रखने के लिए घर में अलमारी भी नहीं है

    बर्मिंघम में हुए CWG 2022 में 313 किलो वजन उठकार कमाल करने वाले अजिंता श्यूली के मेडल्स और ट्रॉफी मां की फटी साड़ी में लपेटकर रखे जाते है. वेटलिफ्टर श्यूली ने भारत को 73 किग्रा भारवर्ग में गोल्ड मेडल दिलाया  है. श्यूली की मां ने बताया कि उनके बेटे के मेडल्स और ट्रॉफी दो कमरों के घर में बेड के नीचे रखे हुए हैं. श्यूली का घर पश्चिम बंगाल के देयुलपुर में हैं. अजिंता श्यूली कॉमनवेल्थ गेम्स में कमाल करके जब घर लौटे तो उनकी मां पूर्णिमा श्यूली ने एक छोटे से स्टूल पर इन सभी ट्रॉफी और मेडल्स को रखा हुआ था.

    अजिंता श्यूली

    सामान चढ़ाने- उतारने का काम करते थे अंचिता

    भारतीय चैंपियन  की मां ने कहा कि उनके बच्चों को साड़ियों पर जरी का काम करने के अलावा सामान चढ़ाने और उतारने का भी काम करना पड़त था. इतनी मुश्किलों के बावजूद दोनों ने वेटलिफ्टिंग करना जारी रखा. उन्होंने कहा कि मेरे पास दोनों को काम पर भेजने के अलावा कोई विकल्प नहीं था. अगर मैं ऐसा नहीं करती तो हमारे लिए जीवित रहना भी मुश्किल हो जाता

  • E- Shram: आपके खाते में आ गया दूसरी किस्त का पैसा, तुरंत ऐसे चेक करें

    E- Shram, ई-श्रम | अगर आपने भी ई-श्रम योजना के तहत कार्ड बनवाया है, तो यह खबर आपके लिए है। सरकार अब पात्र श्रमिकों के खाते में दूसरी किस्त डालने की योजना बना रही है। जानकारी के मुताबिक, चुनाव से पहले ही पांच राज्यों के श्रम विभाग ने मजदूरों के खाते में पहली किस्त ट्रांसफर कर दी थी. उसके बाद आज तक दूसरी किस्त का कोई सुराग नहीं लगा है।
    दूसरी किस्त को लेकर श्रम विभाग ने यह भी कहा था कि वे खातों का सत्यापन कर रहे हैं। क्योंकि कई ऐसे लोगों ने ई-श्रम भी बनवाया है, जो इसके पात्र भी नहीं थे।

    आपको बता दें कि ई-श्रम पोर्टल के जरिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने श्रमिकों का डाटा तैयार किया था। ताकि सभी पात्र लोगों का डाटा बैंक मिल सके। जनवरी में सरकार की योजना राज्य के 1.50 करोड़ श्रमिकों को रखरखाव भत्ता राशि श्रमिकों के खाते में स्थानांतरित करने की थी. लेकिन बीच चुनाव के कारण यह भत्ता रोक दिया गया था।

    योगी सरकार द्वारा ई-श्रम योजना के तहत श्रमिकों को 500 रुपये प्रति माह रखरखाव भत्ता के रूप में दिया जाना है। श्रम विभाग खातों में 1000 रुपये भेजकर हर दो महीने में इसका भुगतान करेगा। जानकारी के मुताबिक इस भत्ते को दोबारा दूसरी किस्त में ट्रांसफर करने की खबर आ रही है. विभागीय सूत्रों का दावा है कि दूसरी किस्त अगस्त माह में ही श्रमिकों के खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

  • एशिया कप क्रिकेट: टीम इंडिया में विराट की वापसी

    Virat kohli

    एशिया कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का एलान कर दिया गया है. टीम में विराट कोहली की वापसी हो गई है और जसप्रीत बुमराह चोटिल होने का कारण टीम के सलेक्शन के लिए मौजूद नहीं थे.

    कोहली को वेस्ट इंडीज़ टूर और जिम्बाब्वे के ख़िलाफ़ वन डे मैचों के लिए आराम दिया गया था. अब वो सीधे एशिया कप में खेलेंगे, भारत का पहला मैच 28 अगस्त को पाकिस्तान के साथ है.

    एशिया कप के लिए भारतीय टीम इस प्रकार है: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, रिषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, यजुवेंद्र चहल, आर बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह और अवेश खान
    श्रेयस अय्यर, अक्षर पटेल और दीपक चाहर को स्टैंडबाई रखा गया है.

  • राजस्थान के 15 जिलों में तेज बारिश का अलर्ट,

    राजस्थान में रविवार को कई जिलों में मेघ खासे मेहरबान रहे। जयपुर में सुबह तकरीबन 11 बजे बरसात शुरू हुई जो सवा घंटे तक जारी रही। राजधानी में 34.0 मिमी बरसात रिकॉर्ड की गई। तेज बरसात के चलते जगह-जगह पर पानी भर गया, जिससे सड़क पर लंबा जाम लग गया। धौलपुर में करीब डेढ़ घंटे में 110 मिमी (4.33 इंच) पानी बरसा। कोटा बैराज के दो गेट खोलकर 6213 क्यूसेक पानी की निकासी की गई, बीकानेर में जमकर बारिश हुई। शाम साढ़े पांच बजे तक 50 एमएम बारिश होना रेकॉर्ड किया है। उधर, मौसम विभाग ने सोमवार को 15 जिलों में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है।

    जारी रहेगा बारिश का दौर
    मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक आरएस शर्मा ने बताया कि उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी व आसपास के लगने वाले ओडीशा तट के ऊपर एक एक लो प्रेशर एरिया बना हुआ है। इसके अगले 48 घंटों में और तीव्र होने व धीरे-धीरे पश्चिम-उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ने की प्रबल संभावना है। इस सिस्टम के असर से अगले चार-पांच दिन पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश, जबकि दक्षिणी राजस्थान के कोटा, उदयपुर संभाग के जिलों व आसपास में भारी बारिश का दौर जारी रहने की प्रबल संभावना है। पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर व बीकानेर संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है।

  • Lakshy Sen Win Gold Medal in CWG: लक्ष्य सेन ने भारत की झोली में डाला एक और गोल्ड मेडल

    बर्मिंघम: भारत के लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG 2022) में पुरुष सिंगल्स का गोल्ड मेडल जीत लिया है। फाइनल मुकाबले में लक्ष्य ने मलेशिया के त्जे योंग को पहला गेम हारने के बाद 19-21, 21-9, 21-16 से हराया। पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले रहे 21 साल के लक्ष्य सेन ने भारत को 20वां गोल्ड दिलाया

    Lakshya sen

    एक समय लक्ष्य 6-8 से पीछे हो गए थे। लेकिन इसके बाद दमदार वापसी की। उन्होंने 15 पॉइंट बना लिए और इस दौरान योंग को सिर्फ एक पॉइंट लेने दिया। इस तरह उन्होंने दूसरा गेम 21-9 से अपने नाम किया। तीसरे गेम में एक बार फिर कड़ी टक्कर हुई। लेकिन लक्ष्य सेन ने हमेशा बढ़त बनाए रखी। अंत में उन्हें गेम को 21-16 से जीतने के साथ गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया।

  • किसानों की हुई मौज़, सरकार इस दिन खाते में भेजेगी 40 हज़ार रूपये.

    सरकार किसानों के लिए बहुत कुछ कर रही है। इसलिए सरकार पीएम किसान सम्मान निधि योजना को लेकर आयी। आपकी जानकारी के लिए बता दे सरकार किसानों की 10 वीं किस्त दिसंबर तक उनके खाते में भेजने की तैयारी है। पर इस बार कुछ किसानों को उनके खाते में 4,000 रुपये भेजे जाएंगे। सरकार इस योजना के तहत 15 दिसंबर तक किसानों के खातों में किश्त भेज दी जाएगी। ये इस योजना की 10 वीं किस्त है। इस योजना के तहत सरकार एक साल में 6000 रुपये किसानों को तीन किस्तों में उनके खाते में डालती है। ऐसा सुनने में आ रहा है कि सरकार इस बार कुछ किसानों को दोगुनी राशि भेज सकती है।

    Kisan samman nidhi yojna

    बता दे सरकार के द्वारा पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक देश भर में करीब करीब 11.37 करोड़ किसानों के खातों में 158 लाख करोड़ रुपये भेजे गए हैं। इस साल भी सरकार 2,000 रुपये की 10 वीं किस्त किसानों के खातों में दिसंबर तक भेजने जा रही है, लेकिन रिपोर्ट्स की माने तो इस बार कुछ किसानों को किस्त में दोगुनी राशि भी मिल सकती है। क्योंकि कुछ किसानों को 9 वीं और 10 वीं किस्तों की राशि एक-साथ मिलेगी। इसलिए अगर आप भी इस योजना से जुड़े हैं तो आप अपने नाम की जाँच भी घर बैठे ही कर सकते हैं।

    PM- KSNY- लिस्ट में नाम कैसे चेक करें

    सबसे पहले आप इस योजना के ऑफिसियल वेबसाइट pmkisan.gov.in की वेबसाइट पर जाएं।
    वेबसाइट पर जाने के बाद आप को लाभार्थी सूची पर क्लिक करना है।
    इसके बाद आपको अपने राज्य, जिला, उप-जिला, गांव का नाम भरकर पीएम किसान योजना की सूची में अपना नाम चेक करना है।
    अपने नाम को चेक करके आप पता लगा सकते है कि आपको पैसा मिलेगा या नहीं।

  • Nikhat Zareen Wins Gold in CWG: बॉक्सर निखत जरीन ने बर्मिंघम में जीता सोना, भारत की झोली में आया 17वां गोल्ड

    Nikhat Zareen Wins Gold Commonwealth Games 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के 10वें दिन निकहत जरीन ने भारत को एक और गोल्ड मेडल दिलाया. उन्होंने विमेन्स लाइट फ्लाई कैटेगरी के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड की कार्ले मैकनाउल को 5-0 से हराया. टीम इंडिया का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह 48वां मेडल है. जबकि बॉक्सिंग में यह तीसरा गोल्ड मेडल है. दिलचस्प बात यह है कि निकहत पहली बार देश के लिए CWG में मेडल जीती हैं.

    Nikhat Zareen

    निकहत ने पहले ही राउंड से दमदार शुरुआत की और इसे आखिरी राउंड तक बरकरार रखा. उन्होंने इस मुकाबले को 5-0 से जीतकर कीर्तिमान रच दिया. निकहत का भारत के लिए कॉमनवेल्थ गेम्स में यह पहला मेडल है. निकहत सेमीफाइनल में शानदार खेली थीं. उन्होंने इंग्लैंड की बॉक्सर 5-0 से हराया था. निकहत ने सेमीफाइनल के प्रदर्शन को बरकरार रखते हुए फाइनल में भी पंच जड़ दिया और भारत को गोल्ड मेडल दिला दिया.

    भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में रविवार तक 17 गोल्ड मेडल जीत लिए हैं. टीम इंडिया मेडल टैली में चौथे स्थान पर है.

  • CWG : Deepak Punia win gold ‘ केतली पहलवान’ ने दिलाया गोल्ड, पहला दंगल जीतने पर मिले थे 5 रुपये

    इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे 22वें CWG के एक ही दिन में भारतीय पहलवानों ने अपना दम दिखाते हुए तीन गोल्ड समेत कुल 6 मेडल अपनी झोली में डाल लिए.

    आप सोच रहे होंगे कि यह केतली पहलवान कौन है. तो बता दें कि दीपक पूनिया को ही उनके गांव में केतली पहलवान कहा जाता है. गांव वालों ने दीपक को बचपन से ही केतली पहलवान बुलाना शुरू कर दिया था. इस नाम के पीछे भी एक अलग ही स्टोरी है.

    दीपक पूनिया ने गोल्ड दिलाया था. उन्होंने फाइनल में पाकिस्तान के रेसलर को हराकर गोल्ड मेडल जीता. दीपक पूनिया ने 86 किग्रा. फ्री-स्टाइल कुश्ती में पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को 3-0 से मात दी. पूरे मैच में दीपक पूनिया हावी नज़र आए. मैच में एक भी समय ऐसा नहीं लगा कि पाकिस्तानी रेसलर जरा भी दीपक पर हावी हुए हैं. बल्कि दीपक के दांव के आगे पाकिस्तानी रेसलर ही थके हुए नजर आए.

    Deepak puniya

    4 साल की उम्र में पहलवानी में दिखाई थी दिलचस्पी

    बता दें कि दीपक को पहलवानी विरासत में मिली है. उनके पिता और दादा भी पहलवान थे और यही वजह थी कि महज 4 साल की उम्र से ही दीपक पहलवानी में दिलचस्पी लेने लगे थे. दीपक ने जब अपना पहला दंगल जीता था, तब उन्हें इनाम के तौर पर 5 रुपये मिले थे.

  • पिताजी ने आलू प्याज बेच के पढ़ाया बेटी ने किया बीपीएससी क्रैक मिली 307वी रैंक

    Success story : जी हां हम बात कर रहे हैं जूही कुमारी जिन्होंने बीपीएससी परीक्षा पास करके परिवार के सपनों को साकार किया, जूही ने अपनी सफलता के लिए बड़े भाई को प्रेरणा स्त्रोत बताया और पिताजी को हर कदम पर हिम्मत बढ़ाने वाला बताया. खबर सुनते ही जूही के पिता अनिरुद्ध गुप्ता भावुक हो गए और अब उन्हें अपनी बेटि पर पर गर्व है ऐसा बताया.

    जूही अपने परिवार के साथ

    सारण जिले के मढौरा खुर्द की रहने वाली जूही कुमारी ने 66वीं BPSC परीक्षा पास कर ली है. बिहार लोक सेवा आयोग भर्ती का रिजल्ट जारी होने के बाद से ही परिवार में खुशियों का उजाला छा गया है.

    जूही के पिता आलू प्याज के थोक विक्रेता हैं. वह मढौरा में आलू प्याज की दुकान चलाकर अपनी सबसे छोटी बेटी को पढ़ाने का हर सम्भव प्रयास करते हैं और कदम कदम पर उत्साह बढ़ाने का काम करते हैं.

    रिजल्ट की खबर सुनते ही जूही के पिता अनिरुद्ध प्रसाद गुप्ता भावुक होकर रोने लगे. उन्हें कहा कि उन्‍हें अपनी बेटी पर बहुत गर्व है. जूही की इंटरमीडिएट तक पढ़ाई मढौरा में हुई जबकि ग्रेजुएशन छपरा से हुई है. वह दो बार मेन्‍स की परीक्षा में असफल होने के बाद तीसरे अटेम्‍प्‍ट में सफल हुई हैं. जूही ने परीक्षा में 307वीं रैंक हासिल की है.

  • सुधीर ने भारत को दिलाया 6 गोल्ड, बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में पैरापावर लिफ्टिंग में सुधीर ने गोल्ड जीत कर इतिहास रच दिया

    बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में भारत के पैरा-पावरलिफ्टर सुधीर ने स्वर्ण जीतकर इतिहास रच दिया है। वह राष्ट्रमंडल खेलों में पैरा-पावरलिफ्टिंग (दिव्यांग एथलीट्स की वेटलिफ्टिंग) में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय एथलीट बन गए हैं

    Sudhir

    87.30 किलो वजन वाले सुधीर ने रैक हाइट 14 के साथ पहले प्रयास में 208 किलो वजन उठाया। वहीं, दूसरे प्रयास में उन्होंने 212 किलो वजन उठाया। 212 किलो वजन की लिफ्ट के साथ सुधीर ने नया गेम्स रिकॉर्ड भी कायम किया। अपने आखिरी अटैम्प्ट में सुधीर 217 किलो वजन उठाने में नाकाम रहे। 134.5 पॉइंट्स लेकर सुधीर टॉप पर रहे और स्वर्ण पदक अपने नाम किया।